May 8, 2021
IBPS full form

IBPS full form in Hindi – IBPS के काम, Admission और एग्जाम की जानकारी

IBPS full form – Institute Of Banking Personnel Selection

बैंक की नौकरी को करीब डेढ़ दशक पहले आम-बोलचाल की भाषा में शाही नौकरी करार दिया जाता था। आज भी छात्रों में बैंक की नौकरी के प्रति क्रेज कम नहीं।

आज भी लाखों छात्र हर साल बैंक की नौकरी के लिए आवेदन करते हैं। अच्छा करियर, बेहतरीन सेलरी बैंक की नौकरी की तरफ जाने की एक खास वजह है। ऐसे ही युवाओं को IBPS अवसर प्रदान करती है। आज हम आपको IBPS full form in Hindi, IBPS है क्या, यह करती क्या है, इसकी अहमियत क्या है…जैसे कई सवालों के जवाब देंगे। जरा एक नजर इधर डालिए-

IBPS full form in Hindi – इबपस

आज हम जानेगे IBPS full form हिंदी में.
IBPS full form

IBPS का full form – Institute Of Banking Personnel Selection

IBPS in Hindi – बैंकिंग कार्मिक चयन संस्‍थान।

IBPS को बैंक में कर्मचारियों की नियुक्ति करने की जिम्मेदारी सौपीं गई है। इसकी स्थापना 43 साल पहले हुई थी।

IBPS के काम

IBPS देश में 19 क्षेत्रीय ग्रामीण बैंकों और सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों के लिए कर्मचारियों की भर्ती और चयन करता है। यह हर साल बैंकों के लिए भर्तिया (Recruitment) निकालता है। इसके लिए उम्मीदवारों को एक निर्धारित प्रक्रिया से गुजरना पड़ता है।

ये भी जाने –

IBPS में कैसे आवेदन करे?

आजकल आन लाइन का जमाना है। IBPS के लिए भी आन लाइन आवेदन किया जा सकता है। आईबीपीएस की साइट पर जाकर अपने सिस्टम या किसी कैफे के माध्यम से आवेदन कर सकते हैं।

IBPS के लिए exam

IBPS परीक्षा के तीन चरण हैं- पहला प्रारंभिक परीक्षा, दूसरा मुख्य परीक्षा और तीसरा इंटरव्यू। मुख्य परीक्षा में पास होने वाले अभ्यर्थियों को इंटरव्यू के लिए बुलाया जाता है। हां, इसमें क्लर्क की परीक्षा के लिए इंटरव्यू नहीं होता।

इस तरह होती है पीओ परीक्षा

IBPS पीओ प्राथमिक परीक्षा के साथ ही मुख्य परीक्षा परीक्षा होती है। प्राथमिक परीक्षा में पास करने वाली ही मुख्य परीक्षा के वर्ग तक पहुंचते हैं। यह परीक्षा आन लाइन होती है, जिसके लिए तीन घंटे निर्धारित हैं। इसमें एक कंप्यूटर सेक्‍शन भी होता है। गलत जवाब के लिए निगेटिव मार्किंग का प्रावधान किया गया है।

दोनों परीक्षाएं पास करने के बाद चुने गए उम्मीदवारों का इंटरव्यू होता है।

यूं होती है क्लर्क परीक्षा

IBPS की क्लर्क प्राथमिक परीक्षा में आब्जेक्टिव टाइप प्रश्न पूछे जाते हैं। यह परीक्षा भी आन लाइन होती है। इसके लिए एक घंटे कासमय निर्धारित कियागया है। इंगलिश, न्यूमेरिकल क्षमता, रीजनिंग जैसे सेक्‍शन होते हैं। प्राथमिक परीक्षा को पास करने के बाद आवेदक मुख्य परीक्षा में बैठने के योग्य होता है। यह परीक्षा भी आन लाइन होती है।

चार सेक्‍शन में होने वाली इस परीक्षा में सामान्य वित्तीय जागरूकता, रीजनिंग, कंप्यूटर एप्टीट्यूड से जुड़े प्रश्न होते हैं। इसमें भी निगेटिव मार्किंग का प्रावधान किया गया है।

परीक्षा में पास होने को यह जरूरी

परीक्षा में पास होने के लिए आपको अंग्रेजी का बेसिक ज्ञान जरूरी है। Word Formation, Sentence Arrangement, Spelling आदि की जानकारी हो। कम्प्यूटर विषय में कम्प्यूटर से संबंधित प्रश्न पूछे जाते हैं। लिहाजा, Ms Excel, Power Point, Ms-office, Ms Word, हार्डवेयर, सॉफ्टवेयर आदि की जानकारी हो|

सामान्य वित्तीय जागरूकता से जुड़े प्रश्नों के लिए अंतर्राष्ट्रीय अर्थव्यवस्‍था, वित्त, कृषि, बाजार आदि की जानकारी होनी चाहिए। क्वांटिटेटिव एप्टीट्यूड के प्रश्नों में गणित से जुड़े सवाल मसलन प्रतिशत और औसत, अनुपात, समय और दूरी, लाभ-हानि, ऊंचाई और दूरी, ब्याज आदि से जुड़े सवाल आ सकते हैं।

ये भी जाने –

IBPS पोस्ट पर हमारी राय

यह हमने IBPS के काम, Admission, exam और IBPS full form in Hindi बताई है. हमे comment में बताए की आपको हमारी पोस्ट कैसी लगी? कोई सवाल हो तो ज़रूर पूछे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!