May 8, 2021
इस पोस्ट में हम जानेगे cinnamon meaning in Hindi और इसके अलग अलग फायदों के बारे में।

Cinnamon Meaning in Hindi – Cinnamon का मतलब क्या है?

दोस्तो आप सभी ने Cinnamon के बारे में जरूर सुना होगा। इसके साथ ही आपने इसका Use भी किया होगा। ये काफी कॉमन मसाला है जो भारत की हर किचन में पाया जा सकता है।

हालांकि यहाँ पर इसका नाम English में दिया गया हिय इस वज़ह से हो सकता है कि आप इस पहचान ना पा रहे हो, लेकिन जब आप इसका हिन्दी मे नाम जानेंगे तो निश्चित रूप से आप इसे पहचान जाएंगे। तो चलिए दोस्तो बिना किसी देरी के हम आपको Cinnamon का हिन्दी नाम बताते हैं।

Cinnamon meaning in Hindi

इस पोस्ट में हम जानेगे cinnamon meaning in Hindi और इसके अलग अलग फायदों के बारे में।
Cinnamon meaning in Hindi

Cinnamon Meaning – दालचीनी

अब हमें पूरा विश्वास है कि आप इसे अच्छी तरह से पहचान गए होंगे दालचीनी हर भारतीय रसोई में मौजूद रहता हैं। भारतीयों के लिए ये एक काफी पसंददीदा मसाला है, जिसका Use वो कई तरह की Dish बनाने में करते हैं।

दालचीनी के बारे में इतना तो हम सभी जानते है कि ये एक मसाला है, और इसका Use भारत के हर किचन में किया जाता है। लेकिन आप इसके इतिहास के बारे में शायद ही जानते होंगे। इसीलिए आज हम यहाँ पर आपको दालचीनी के इतिहास के बारे में बताने वाले हैं।

Cinnamon (दालचीनी) का इतिहास- 

दालचीनी का इतिहास बहुत पुराना है। इसकी खोज़ का श्रेय प्राचीन Egypt को जाता है जिन्होंने 2000 BCE में इसकी खोज की थी। प्राचीन समय मे ये इतना कीमती माना जाता था कि लोगो के द्वारा इसे एक दूसरे को उपहार के तौर पर भी दिया जाता था। Egypt के लोग इसका Use उनके Mummies को भी सुरक्षित रखने के लिए करते थे। उस समय वो मरने वालों की Body पर दालचीनी का लेप लगाकर रखते थे ताकि उनकी Body ख़राब ना हो। Egypt से ही पूरी दुनिया मे धीरे- धीरे दालचीनी सबके पास पहुँचा।

भारत मे गरम मसाले के रूप में दालचीनी का प्रयोग हज़ारो सालो से होता आ रहा है। प्राचीन ग्रन्थों में मिले लेख के अनुसार दालचीनी का Use पहले खाने के साथ ही औषधि के रूप में भी किया जाता था।

भारत मे ईस्ट इंडिया कम्पनी द्वारा सन 1767 में केरल राज्य में इसकी खेती की शुरुआत करवाई गई । उस समय केरल का ‘अंजरक्कन्दी’ गाँव एशिया का सबसे बड़ा दालचीनी उत्पादक गाँव बना।

दालचीनी एक ऐसा पौधा है जो कि साल के 12 महीनें उगाया जाता है। इसके पत्ते गोलाकार होते है। इस पेड़ की लम्बाई 10-15 मीटर तक होती है। इस पेड़ की छाल ही दालचीनी मसाले के रूप में Use किया जाता है।

दालचीनी का Use पूरी दुनिया मे मसाले के रूप में बड़ी मात्रा में किया जाता है। भारत जैसे देश मे जहाँ पर लोग बिना मसाले के भोजन का सेवन कर ही नहीं सकते यहाँ पर दालचीनी काफ़ी मात्रा में लोगो द्वारा Use में लाया जाता है। दालचीनी गरम मसाले के रूप में भोजन का स्वाद बढ़ाने के साथ ही कई तरह के औषधीय गुण भी रखता है। जो कि इसे गरम मसालों की श्रेणी में काफ़ी ख़ास बनाता है।

इस क्रम में आइये जानते है कि दालचीनी में क्या क्या गुण पाये जाते है और ये किस तरह से हमारे लिए फायदेमंद साबित हो सकता है।

Cinnamon (दालचीनी) के फायदे?

  • दिमाग की क्षमता बढ़ाये – दालचीनी का Use आपके दिमाग की क्षमता को बढ़ाता है। कई तरह के शोध से भी पता चला है कि दालचीनी का Use हमारे दिमाग के काम करने की क्षमता को बढ़ाता है।
  • जोड़ो के दर्द के लिए- अगर आप जोड़ो के दर्द से परेशान है तो भी आपके लिए दालचीनी काफ़ी फायदेमंद साबित हो सकता है। हल्के गर्म पानी मे थोड़ा हल्दी के साथ दालचीनी मिलाकर मालिश करने से आपको Joints के Pain में काफ़ी राहत मिलती है।
  • दालचीनी का उपयोग सदियों से gastrointestinal की समस्या के उपचार के लिए प्रयोग किया जा रहा है |
  • दालचीनी का प्रयोग से मुंह से आने वाले दुर्गन्ध को मिटाता है |
  • Skin रोग में फायदेमंद- जिन लोगो को Skin संबंधी कोई समस्या होती है उनके लिए भी दालचीनी काफी फायदेमंद होता है।
  • नियमित रूप इसका सेवन करने blood pressure की समस्या दूर रहती है |
  • पेट की समस्या- दालचीनी का सेवन आपकी पाचन क्रिया को भी दुरुस्त कर सकता है। दालचीनी से पेट दर्द और एसिडिटी से काफी राहत मिलती है। इसके साथ ही अगर आपको पाचन संबंधी कोई समस्या है तो भी दालचीनी आपकी मदद कर सकता है।
  • कैंसर में भी फायदेमंद- कैंसर जैसे घातक बीमारी के लिए भी दालचीनी काफी फायदेमंद होता है। दालचीनी और शहद का एक साथ Use कर के आप कैंसर जैसी ख़तरनाक बीमारी को भी दूर कर सकते हैं। इसमें antioxidant होने की वजह से या cancer की बीमारी को भी दूर रखता है
  • दालचीनी का रोजाना प्रयोग से शरीर में रक्त शर्करा में कमी लती है जो मधुमेह जैसे रोग को संतुलित रखता है |
  • Heart के मरीज़ के लिए भी दालचीनी फायदेमंद- दालचीनी कोलेस्ट्रॉल को कम करने में भी Help full होता है।इस वज़ह से Heart के मरीज़ के लिए भी दालचीनी काफी फायदेमंद साबित होता है।
  • १.५ ग्राम दालचीनी के चूर्ण को एक चमच शहद के साथ रोजाना इस्तेमाल से अल्सर जैसे बीमारी को ठीक किया जा सकता है |

इस पोस्ट पर हमारी राय

दालचीनी सभी इस्तेमाल करते है पर बहुत कम लोगो को इसका इंग्लिश मतलब यानि cinnamon पता होगा. हमे कमेंट में बताये की आपको हमारी पोस्ट cinnamon meaning in Hindi कैसी लगी? कोई सवाल हो तो ज़रूर पूछे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!