August 1, 2021

भाग्य लक्ष्मी योजना

भाग्य लक्ष्मी योजना

आज के हमारे पोस्ट भाग्य लक्ष्मी योजना में हम यूपी (उत्तर प्रदेश) की भाग्य लक्ष्मी योजना के बारे में चर्चा करेंगे और आपको बताएंगे कि भाग्य लक्ष्मी योजना क्या है? कैसे आप अपनी बेटी के लिए भाग्य लक्ष्मी योजना के लिए एप्लाई कर सकते हैं तथा भाग्य लक्ष्मी योजना से जुड़ी अन्य बातें भी आपको हमारी इस पोस्ट भाग्य लक्ष्मी योजना इन हिंदी में जानने को मिलेगी।

भाग्य लक्ष्मी योजना क्या है?

मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्य नाथ जी द्वारा उत्तर प्रदेश में महिला और बाल विकास विभाग के सहयोग से भाग्य लक्ष्मी योजना की शुरुआत की गई है। इस योजना के तहत ( UP Govt Scheme ) सरकार द्वारा राज्य में लड़कियों के भविष्य को सुरक्षित करने के लिए उन्हें 50 हजार से 2 लाख रूपये की आर्थिक सहायता राशि प्रदान की जाती है। प्रदेश में लड़कियों के लिए ( Scheme For Girls ) शुरू की गई इस सरकारी योजना का मुख्य उद्देश्य कन्या भ्रूण हत्या जैसे अपराध को रोकना, समाज में बेटियों के प्रति समान पैदा कर उनके जन्म को बढ़ावा देना और महिला सशक्तिकरण को बढ़ावा देना है।
उत्तर प्रदेश राज्य में शुरू की गई Bhagya Lakshmi Yojana का लाभ केवल गरीबी रेखा से नीचे जीवन यापन करने वाले बीपीएल परिवार या जिनकी सालाना आय 2 लाख रूपये से कम है उठा सकते है। इस स्कीम के तहत बेटी के जन्म पर 50 हजार रूपये का Bond और बच्ची की माँ को 5100 रूपये की नगद सहायता राशि दी जाती है। योजना के तहत बेटी के जन्म से लेकर 21 वर्ष के होने तक सहायता राशि किस्तों में प्रदान करने का प्रावधान किया गया है। लड़की के कक्षा 6 में प्रवेश करने पर 30000 रूपये, इसके बाद 8वीं में जाने पर 5000 रूपये उसके बाद कक्षा 10वीं और 12वीं में क्रमशः 7000 और 8000 रूपये और वहीं, जब बेटी की उम्र 21 साल हो जाएगी तो यह रकम 2 लाख रुपये तक हो जाती है।

  • भाग्य लक्ष्मी योजना के लिए योग्यता
  • इस भाग्य लक्ष्मी योजना का लाभ केवल बीपीएल परिवारों को ही मिलेगा।
  •  परिवार की सालाना आय 2 लाख रुपये से कम होनी चाहिए।
  • आवेदक परिवार उत्तर प्रदेश का मूल निवासी होना चाहिए।
  •  एक परिवार की अधिकतम दो लड़कियों को ही इस भाग्य लक्ष्मी योजना का लाभ मिल सकता है।
  • लड़की के जन्म के एक महीने के अंदर आंगनवाड़ी में पंजीकरण करना जरूरी है।
  • लड़की की शादी 18 वर्ष से कम उम्र में नहीं होनी चाहिए।
  • शिक्षा प्राप्त करने हेतु बालिका का सरकारी स्कूल में एडमिशन होना चाहिए।
  • 31 मार्च 2006 के बाद गरीबी रेखा से नीचे (BPL) परिवारों में जन्म लेने वाली बालिकाएँ इस योजना के तहत लाभ लेने के लिए पात्र हैं।

यूपी ( उत्तर प्रदेश) भाग्य लक्ष्मी योजना में आवेदन के लिए जरुरी दस्तावेज़ कुछ इस प्रकार है-:

  • माता पिता का आधार कार्ड होना चाहिए।
  • निवास प्रमाण पत्र होना अनिवार्य है।
  • आय प्रमाण पत्र होना भी आवश्यक है।
  • जाति प्रमाण पत्र होना चाहिए।
  • बालिका का जन्म प्रमाण पत्र अनिवार्य है।
  • बैंक अकाउंट पासबुक का होना अनिवार्य है।
  •  मोबाइल नंबर होना आवश्यक है।
  •  पासपोर्ट साइज फोटो होनी चाहिए।

यूपी भाग्य लक्ष्मी योजना के लिए फॉर्म कैसे एप्लाई करें? How To Apply for Bhagya Lakshmi Yojna

How To Apply For Bhagya Lakshmi Yojana Registration Form : भाग्य लक्ष्मी योजना का लाभ लेने के लिए आपको ऑफलाइन एप्लीकेशन फॉर्म भर कर जमा करना होगा आंगनवाड़ी केंद्र में जमा करना होगा। जिसके बाद आप इस योजना से जुड़ जायेंगे और आपको इसका Benefit मिलना शुरू हो जाएगा। फॉर्म भर कर जमा करवाने के लिए यहाँ दिए आसान Step को follow करें।

  1. सबसे पहले आपको योजना की आधिकारिक वेबसाइट wwwmahilakalyan.up.nic.in पर जाना होगा।
  2.  अब आप इस Official Website से यूपी भाग्य लक्ष्मी योजना के Application Form की PDF को डाउनलोड कर लें।
  3. Click Here To Download The Application Form PDF of UP Bhagya Laxmi Yojana पर क्लिक करेI
  4. उपरोक्त लिंक से आवेदन फॉर्म की पीडीएफ डाउनलोड करने के बाद इसका प्रिंट निकाल कर आवेदन फॉर्म में पूछी गयी समस्त कॉलम जैसे बिटिया का नाम , जन्म तिथि , पता ,जाति आदि सही से भरें ।
  5.  आवेदन फॉर्म को भरने के बाद सभी जरुरी कागजात की प्रतिलिपि आवेदन फॉर्म के साथ संलग्न करें
  6.  इसके बाद इस फॉर्म को अपने नजदीकी आंगनवाड़ी केंद्र या अपने नजदीकी महिला कल्याण विभाग के कार्यालय में भी जमा।
    इस प्रकार भाग्य लक्ष्मी योजना में सफलतापूर्वक आपके आवेदन पंजीकरण (रजिस्ट्रेशन) का कार्य पूरा हो जायेगा।

भाग्य लक्ष्मी योजना के लाभ- 

यदि आप अपनी बेटी का भविष्य सुरक्षित चाहते हैं तो आपको भाग्य लक्ष्मी योजना का लाभ उठाना चाहिए क्योंकि इस योजना के कई लाभ हैं।
1. यह योजना खास उन बेटियों के लिए है जो आर्थिक रूप से कमजोर है।
2. इस योजना के तहत बेटी के जन्म के समय 50 हजार रुपए की धनराशि दी जाती है और बेटी की माँ को 5100 रुपए की धनराशि दी जाती है।
3. लड़की के 21 साल के होने के बाद 2 लाख रुपए योजना के तहत बेटी के माता पिता को दिये जाएंगे।
4. एक परिवार की दो बेटियाँ ही इस योजना का लाभ ले सकती है।
5. योजना का लाभ लेने के लिए जरूरी है की बेटी को शिक्षा प्राप्त करने के लिए सरकारी शिक्षण संस्थान में ही दाखिला लेना होगा।
6. जो परिवार गरीबी रेखा से नीचे जीवनयापन करते है उन्हीं को इस योजना का लाभ दिया जाता हैI

इसे भी जाने-

आयुष्मान भारत योजना (ABY)

Kisan Credit Card se loan kaise le

उत्तर प्रदेश की भाग्य लक्ष्मी योजना ( UP Bhagya Lakshmi Yojana) का मकसद लड़कियों के भविष्य को मजबूत करना, उनकी पढ़ाई-लिखाई में आने वाली आर्थिक तंगी को दूर करना और प्रदेश में लड़कियों की संख्या को दूर करना है। यूपी सरकार का इस योजना के पीछे एक मकसद कन्या भ्रूण हत्या को रोकना भी है।
अगर आपको हमारी पोस्ट पसंद आई हो तो इसे लाइक और शेयर जरुर करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!