March 3, 2021

TDS full form in Hindi – TDS क्या है?

TDS full form – Tax Deducted at Source

अगर आपने नौकरीपेशा है। आपको तनख्वाह मिलती है तो आपको TDS के बारे में जरूर पता होगा। अगर आप नौकरी नहीं भी करते तो भी आपने TDS के बारे में जरूर सुना होगा। दरअसल, आपको होने वाली आय के स्रोतों यानी इन्कम सोर्स पर यह TDS काटा जाता है। मसलन किसी इन्वेस्टमेंट या निवेश से आपको ब्याज मिल रहा है या कमीशन मिल रहा है तो उस पर TDS कटेगा।

आज हम आपको TDS full form के साथ ही इससे जुड़े अन्य बिंदुओं पर जानकारी देंगे-

TDS full form in Hindi

TDS की फुल फार्म – Tax Deducted at Source

TDS in Hindi – टैक्स डिडक्टेड एट सोर्स है।

TDS क्या है?

TDS आयकर अधिनियम 1961 के तहत इन्कम टैक्स जमा करने का एक तरीका है। इसे सरकार एडवांस जमा करती है। एडवांस टैक्स के अलावा सेल्फ एसेसमेंट टैक्स भी अलग-अलग तरह के भुगतान के अलग-अलग तरीके हैं। आयकर कानून में अलग-अलग तरह की TDS दरों का प्रावधान किया गया है।

TDS किस किस पर लागू होता है?

आपकी आमदनी और खर्च मसलन- तनख्वाह, बैंक से मिलने वाला ब्याज, घर का किराया और कमीशन आदि का भुगतान आदि TDS के तहत आते है। भुगतान करते समय कुछ पैसे काट लिए जाते है इसे TDS की कटौती करना कहा जाता है। इसके बारे में Deducted यानी जिसका पैसा काटा जाता रहा है, उसे पहले से पता होता है। जो कंपनी TDS काटती है उसे Deductor कहते हैं।

आप अपना TDS आसानी से कैलकुलेट भी कर सकते हैं। TDS जमा करते वक्त आपकी बेसिक जानकारी लिखी जाती है। आपके पैन कार्ड पर दी गई जानकारी का उपयोग किया जाता है।

TDS के फायदे क्या क्या है?

TDS से सभी को फायदा है। टैक्स भरने से सरकार के पास पैसा आता है। घूम-फिरकर यह पैसा जनता के विकास में ही खर्च होता है। मसलन हाइवे बनाने में, पुल बनाने में या किसी अन्य निर्माण कार्य में। यह टैक्स चोरी रोकने में भी मददगार है। इससे सरकार की नियमित आय हो होती ही है।

यह उसके खर्च और व्यवस्था को मैनेज करने में भी मदद करता है। न केवल नौकरीपेशा बल्कि अच्छा कमाने वाले भी टैक्स भरते हैं।

TDS काटने के बाद यह राशि सरकार के पास जमा की जाती है। सरकार TDS के जरिये टैक्स जमा करती है। एडवांस एसेसमेंट की स्थिति में TDS रिफंड भी किया जाता है।

TDS पोस्ट पर हमारी राय

अगर आप भी नौकरीपेशा हैं और आप भी तनख्वाह पर TDS कटते वक्त अपनी कंपनी को कोसते हैं तो इससे बचिए। आपका यही पैसा इनडायरेक्ट तरीके से आखिर आपके ही काम आता है।

बेशक इसका डायरेक्ट असर आपको देखने को नहीं मिलता। बूंद-बूंद से घड़ा भरता है। इसी तथ्य पर चलते हुए सरकार TDS के जरिये प्राप्त होने वाली आय को आम लोगों की भलाई में किए जाने वाले विकास कार्यों पर खर्च करती है।

कर चोरों की वजह से कई बार इस आय को धक्का पहुंचता है। लेकिन ईमानदारी से टैक्स भरना यानी अपने देश के विकास में योगदान करना है। आप भी ईमानदारी से टैक्स भरें, खुद भी चैन से रहें और देश को भी आगे बढ़ने में मदद दें।

इस पोस्ट में हम ने जाना की TDS क्या है, TDS के फायदे, क्यों लेते है TDS और TDS full Form in Hindi के बारे में।

2 thoughts on “TDS full form in Hindi – TDS क्या है?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!