February 26, 2021

Corona Meaning In Hindi

साल 2020 में दुनिया का सामना एक ऐसे दुश्मन से हुआ जिसके बारे में ना तो कभी किसी ने सुना था और न ही जाना थाI  दिखाई भी नहीं पड़ने वाले एक छोटे से वायरस  दुश्मन ने पूरी दुनिया की आबादी को हिला कर रख दिया था I इस छोटे से वायरस ने पूरी दुनिया के कदम रोक कर रख दिएI जी हाँ हम बात कर रहें हैं दुनिया भर में तबाही मचाने वाले कोरोना वायरस कीI इस छोटे से वायरस के आगे न तो अमेरिका जैसे सर्व शक्तिशाली देश की सैन्य शक्ति काम आयी और ना ही दुनिया के सबसे अमीर लोगों के पैसे काम आये I बड़े बड़े महलों में रहने वाले पूंजीपतियों से लेकर सड़क किनारे बैठे भिखारी तक, हर कोई इस बीमारी के प्रकोप से डरा हुआ और परेशान नजर आ रहा हैंI कोरोना महामारी के भयंकर प्रकोप के चलते साल 2020 का नाम इतिहास के पन्नो में दर्ज हो चुका है WHO जैसे स्वस्थ्य संगठनों की माने तो कोरोना के चलते पूरी दुनिया के अरबों लोगों को आर्थिक तथा मानवीय नुक्सान का सामना करना पड़ा है I ऐसे में इस भयंकर बीमारी का इतिहास क्या था ? ये कैसे शुरू हुआ ? इस वायरस के लक्षण क्या है ? और इस वायरस से बचने का उपाय क्या है ? कोरोना को हिंदी में क्या कहते हैं और इसका हिंदी में मतलब क्या होता हैं ? इस पोस्ट Corona Meaning in Hindi,  History of Corona Virus In Hindi के माध्यम से बताने वाले हैंI

History Of Corona Virus In HIndi

कोरोना वायरस क्या है ?

कोरोना वायरस (covid-19) यह एक संक्रामक बीमारी है। covid- 19 वायरस, कोरोना वायरस परिवार का ही एक सदस्य है। इसने पिछले साल के अंत में जानवरों से मनुष्यों में छलांग लगाई, एक प्रजाति से दूसरी प्रजाति में प्रवेश करने वाला यह वायरस मनुष्यों में अधिक संचरित होता है।
कोरोना वायरस कई वायरस का एक समूह है, ये RNA वायरस होते हैं। जोकि स्तनधारियों और पक्षियों में रोग के कारक होते हैं, मनुष्यों में यह स्वशन तंत्र संक्रमण के कारण होता है, और कभी -कभी ये जानलेवा भी हो जाते हैं। इनके उपचार के लिए वर्तमान में कोई भी वैक्सीन तैयार नहीं हुई है जिस कारण मनुष्यों को अपनी प्रतिरक्षा प्रणाली पर ही निर्भर रहना पड़ता है।

 Corona Meaning In Hindi/ Corona को हिंदी में क्या कहते हैं ?

लैटिन  भाषा में कोरोना का अर्थ ‘मुकुट’ होता है, इस वायरस को सूक्ष्मदर्शी से देखने पर इसके आस-पास काटों जैसी उभरी हुई आकृति मुकुट जैसी दिखाई देती है जिसके आधार पर इसका नाम ‘कोरोना’ पड़ा।
कोरोना वायरस के चार मुख्य उप-समूह हैं, जिनको अल्फा, बीटा, गामा, और डेल्टा के नाम से जाना जाता है। जो मानवों को संक्रमित कर सकते हैं वो 7 कोरोना वायरस हैं, कुछ सामान्य मानव कोरोना वायरस हैं जो इस प्रकार हैं।
•229E(अल्फा कोरोना वायरस)
•NL63(अल्फा कोरोना वायरस)
•OC43(बीटा कोरोना वायरस )
•HKU1(बीटा कोरोना वायरस)

Types Of Corona Virus/ कोरोना के प्रकार 

कुछ अन्य मानव कोरोना वायरस हैं जो कि इस प्रकार हैं-
•MERS-CoV (बीटा कोरोना वायरस जो मध्य पूर्व श्वसन सिंड्रोम या MERS का कारण बनता है)

•SARS-CoV (बीटा कोरोना वायरस जो गंभीर तीव्र श्वसन सिंड्रोम या SARS का कारण बनता है)

•SARS-CoV-2 (नोबल कोरोना वायरस जोकि कोरोना वायरस बीमारी 2019 या covid-19 का कारण बनता है।)

दुनिया भर में आमतौर पर लोग 229E, NL63, OC43, और HKU1 मानव कोरोना वायरस से संक्रमित होते हैं। कभी कभी कोरोना वायरस जानवरों को संक्रमित और मानवों को बीमार कर एक नया कोरोना वायरस बना सकते हैं इसके तीन वर्तमान उदाहरण देखे जा सकते हैं- MERS-CoV, SARS-CoV व n-CoV(2019)

कोरोना के लक्षण – इसके सामान्य लक्षणों को पहचान कर आप इससे बच सकते हैं और सही समय पर इसका उपचार कर सकते हैं-
वैसे तो इसके लक्षण सामान्य फ्लू की ही तरह हैं, संक्रमण के फलस्वरूप-

  • बुखार
  • जुकाम
  • सांस लेने में तकलीफ
  • नाक बहना
  • गले में खरास

यह आमतौर पर एक इंसान से दूसरे इंसान में फैलता है, इसको लेकर सावधानी बरतनी चाहिए।

इसे भी जाने- 

WHO full form – WHO क्या करती है?

UNICEF full form in Hindi – UNICEF क्या काम करती है?

कोरोना से बचाव – 

हम आपको कुछ सावधानियां बताएंगे जिनको ध्यान में रख कर आप इस वायरस के प्रकोप से बच सकते हैं-
● हाथों को अच्छे लगभग 20 सेकंड तक दिन में कई बार धोना चाहिए।
●खांसते या छींकते वक़्त टिश्यू या रुमाल का इस्तेमाल करना चाहिये, व उनका प्रयोग करके उनको कूड़ेदान में ही डालें। यदि आपके पास टिश्यू या रुमाल नहीं है तो अपनी बाजू का इस्तेमाल करें।
●हाथ धोये बिना अपने आंख , नाक या मुंह न छुएं।
बीमार व्यक्ति के नजदीक जाने से बचें।
●मास्क पहन कर रखें।
●Social Distancing का पालन करें, आपस में लगभग 1 मीटर की दूरी पर रहें।
●अपने Immune System(रोग प्रतिरोधक क्षमता ) को बढ़ाएं।
●फ़ास्ट फ़ूड या डिब्बा बन्द फ़ूड खाने से परहेज करें।
अपने आस पास की चीजों की सफाई का विशेष ध्यान रखें।

आज के इस पोस्ट Corona Virus In Hindi/ History Of Corona In Hindi के माध्यम से हमने आपको कोरोना वायरस से जुडी सारी जानकारी देने की कोशिश की है I आशा करते हैं की आपको हमारी ये पोस्ट काफी पसंद आयी होगी I आप इसे अपने दोस्तों और जानने वालो के साथ ज्यादा से ज्यादा शेयर करें ताकि उन्हें इस घातक वायरस के बारे में जानकारी मिल सकें और वो खुद को इस वायरस के संक्रमण में आने से बचा सकें I  इसके साथ ही अगर आपके पास कोरोना वायरस से जुडी कोई ख़ास जानकारी ये सुझाव है तो हमें कमेंट के माध्यम से जरूर बताएंI

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!