March 5, 2021

BSTC full form – BSTC course की जानकारी?

BSTC असल में एक प्रकार का Certificate कोर्स होता है जो की Basic Teaching यानी की Primary Teachers बनने के लिए किया जात है ।

छोटे बच्चों को पढाना कोई आसान काम नहीं होता है उन्हें पढ़ाने के लिए खास तरीकों को अपनाना पड़ता है । इसलिए इन छोटे बच्चों को प्रारंभिक शिक्षा देने के लिए खास शिक्षकों की आवश्यकता होती है, और ऐसे शिक्षकों को trained करने के लिए उन्हें BSTC course को कराया जाता है। तो जानते है BSTC full form और इस कोर्स के syllabus के बारे में।

BSTC full form in Hindi

BSTC का फुल फॉर्म – Basic School Teaching Certificate

BSTC का मतलब – बुनियादी स्कूल शिक्षण प्रमाणपत्र

BSTC in Hindi – बेसिक स्कूल टीचिंग सर्टिफ़िकेट

BSTC course की जानकारी

BSTC एक कोर्स है जो कि छोटे बच्चों को पढ़ाने के लिए Training के लिए किया जाता है। इस कोर्स में Students को यह सिखाया जाता है कि वह छोटे बच्चों को किस तरह से पढ़ाएं तथा उन्हें किसी चीज को किस तरह से Explain करें कि वह उसे आसानी से इसे समझ सकें। BSTC के 2 वर्ष के Course में Students को इसी चीज की Training दी जाती है ताकि वह छोटे बच्चों को पढ़ाने में तथा उन्हें कुछ नई चीज सिखाने में सक्षम हो सकें।

Basic School Teaching Certificate जैसे शिक्षक प्रशिक्षण पाठ्यक्रमों को प्राथमिक शिक्षा के बारे में पूरी तरह से समझ और ज्ञान के साथ किया जाता हैं जिससे उन्हें उपयुक्त तथा कौशल तरीकों से सक्षम किया जाता है ताकी वे छोटे शिक्षार्थियों को अच्छी तरह से पढ़ा या सिखा सके |

जिन लोगों को शिक्षण के क्षेत्र में job करना होता उन्हें Basic School Teaching Certificate को करना अनिवार्य होता है | यह course 2 साल का होता है और इस कोर्स के तहत छोटे बच्चों को सरल तरीकों से प्रारंभिक शिक्षा देने के लिए बताया जाता है, और इस course को 10+2 को पूरा करने के बाद किया जा सकता है |

दोस्तों BSTC कोर्स के बारे में हमने इतना तो जान लिया कि यह एक टीचिंग कोर्स है, जिसमें छोटे बच्चों को पढ़ाने के लिए आपको ट्रेंड किया जाता है। इस क्रम में अब आइए यह भी जान लेते हैं कि BSTC के कोर्स को करने के लिए क्या Eligibility होती है तथा इस कोर्स को करने के क्या फायदे हो सकते हैं।

BSTC course के लिए Qualification :

  1. BSTC course को करने के लिए एक उम्मीदवारों को किसी भी मान्यता प्राप्त स्कूल से 12 वीं कक्षा में अनारक्षित श्रेणी के लिए 50% अंकों और आरक्षित वर्ग (SC/ST) के लिए 45% होना अनिवार्य होता है|
  2. 10+2 आवेदन करने वाले उम्मीदवार भी Basic School Teaching Certificate आवेदन form को भर सकते हैं।
  3. BSTC को करने के लिए एक उम्मीदवार को कम से कम 18 वर्ष का होना अनिवार्य है|

BSTC का Syllabus :

1st Year

Subjects

  1. Principal & educational and education in Modern India.
  2. Educational Psychology
  3. Hindi Teaching
  4. English Teaching
  5. Maths Teaching
  6. Physical and Social Environmental Teaching
  7. Health & Physical Educational Teaching
  8. Arts Education Teaching

2nd Year Syllabus

Subjects

  1. School Organization & Educational Innovation
  2. Hindi Teaching
  3. English Teaching
  4. Third language teaching (Oppositional)
  5. Mathematics Teaching
  6. Social Science Teaching
  7. Science Teaching
  8. SUPW

BSTC course के फायदे

वहीं अगर बात की जाए BSTC के कोर्स को करने के बाद के फायदों की तो, आपको बता दें की किसी भी प्राथमिक विद्यालय में या फिर छोटे बच्चों को पढ़ाने के लिए Candidate का BSTC कोर्स करना जरूरी होता है। ऐसे में अगर आप प्राइमरी स्कूल के शिक्षक बनना चाहते हैं तो आपके लिए BSTC Course करना अनिवार्य है।

BSTC पोस्ट पर हमारी राय

BSTC कोर्स उन लोगों के लिए एक बहुत अच्छा विकल्प है जो कि अपना करियर प्राइमरी स्कूल में Teacher के रूप में देखते हैं । BSTC कोर्स करने के बाद आप आसानी से किसी प्राथमिक विद्यालय में शिक्षक की नौकरी कर सकते हैं।
इस पोस्ट में हम ने जाना BSTC course क्या है इसकी duration और BSTC full form in Hindi. हमे comment में बताये की आपको ये पोस्ट कैसी लगी. कोई सवाल हो तो ज़रूर पूछे.

सीखो सिखाओ, India को digital बनाओ

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!