March 3, 2021

BFF full form – BFF क्या है?

क्या आप सब जानते हैं BFF क्या है?, BFF का फुल फॉर्म क्या होता है?, हमारे लाइफ में BFF की क्या वैल्यू होती है? अगर नहीं तो दिक्कत की कोई बात नही क्योंकि हम आपको आज BFF के बारे में ही बताने वाले हैं। हम बताएंगे कि bff कैसे हमारी लाइफ का अहम् हिस्सा होते है!, bff का रोल क्या होता है?, क्या हम भी किसी के bff बन सकते है?

BFF full form in Hindi

BFF ka full form – Best Friend Forever

B – Best 

F – Friend

F – Forever

BFF क्या है?

BFF के बारे में हमे आधी जानकारी इसके फुल फॉर्म से ही पता चल जाती है। BFF का मतलब होता है बेस्ट फ्रेंड फॉरएवर मतलब ऐसा दोस्त जो हमेशा-हमेशा के लिए हमारा सच्चा दोस्त बन के रहे। आप सब ने Bestie शब्द सुना होगा, हम अपने बेस्टी को ही BFF कहते हैं।

वैसे BFF शब्द का इस्तेमाल बोलचाल की भाषा में कम ही होता है। मुख्यतौर पे BFF शब्द का इस्तेमाल अपने दोस्त को दर्शाने के लिए social sites पर, टेक्स्ट मैसेजेस और इंस्टेंट मैसेजिंग के लिए होता है। इस शब्द का इस्तेमाल आजकल कुछ ज्यादा ही चलन में है। BFF एक्रोनिम को 16 सितम्बर,2010 में न्यू ऑक्सफ़ोर्ड अमेरिकन डिक्शनरी में शामिल किया गया था।

हमारे life में BFF क्यों ज़रूरी है?

एक सच्चे दोस्त की जीवन में क्या अहमियत होती है यह तो हम सबको पता है। BFF हमारी लाइफ का एक अहम् हिस्सा होता है। हम अपनी हर बात अपने BFF से शेयर करते हैं चाहे वो छोटी से छोटी बात हो या बड़ी से बड़ी। चाहे किसी के साथ झगड़े की बात हो या किसी के साथ प्यार की।

घर परिवार के बाद हमारी लाइफ में कोई होता है जो हमारे लिए अहमियत रखता है तो वो है हमारा BFF। पर कई बार ऐसा होता है कि जो बात हम अपने घरवालों के साथ भी नही कर पाते वो अपने BFF से करते हैं और अगर कोई समस्या है तो हमारा BFF उसमे हमारी मदद करता है।

BFF की ज़िम्मेदारी क्या है?

अगर कोई आपका सच्चा दोस्त है तो वो ये बिलकुल नही चाहेगा कि:-

  • आपका कुछ भी गलत हो या बुरा हो।
  • आपका BFF हमेशा आपका भला ही चाहेगा।
  • वो आपको सही और गलत में फर्क समझाएगा.
  • आपको कोई भी गलत काम करने से रोकेगा।
  • हर मुश्किल में वो आपका साथ देगा और आपको ख़राब संगत से दूर रखेगा।

कहते हैं कि -:
राज़ महफ़िल में नहीं खुलता तन्हाई में खुलता है।
समंदर कितना ही गहरा हो गहराई में खुलता है।।
ठीक उसी प्रकार से कौन हमारा bff है ये तभी पता चलता है जब हमारे मुश्किल समय में वो हमारा साथ देता है।

क्या हम भी किसी के bff बन सकते है?

कई बार ऐसा होता है जब आपको लगता है कि आपका कोई BFF नही है जिससे आप अपनी हर बात कर सकें या आपको कोई अपना सच्चा दोस्त नही मानता। कोई आपके साथ समय नही बिताना चाहता तो निराश होने की कोई बात नही। आपको बस जरुरत है तो अपने व्यवहार के बार में सोचने की, कहीं आपका बर्ताव ऐसा तो नही जो दूसरों को बिलकुल पसंद न आता हो।

आपको थोड़ा समझदार बनना होगा। अपने दोस्त की मुसीबत में मदद करिये। उसे सही गलत का फर्क समझाइये। उससे अपने बारे में बातें साझा करिये और उसकी बात सुनिये। छोटी छोटी बातों को भूलकर मनमुटाव ख़त्म करिये। देखिये कोई न कोई आपका bff जरूर बनेगा और लोग आपको ऊना सच्चा दोस्त भी मानने लगेंगे।

BFF से सतर्कता !

आपने सुना ही होगा की कोयले की दलाली में मुह काला हो ही जाता है। इसीलिए आपको इस बात का हमेशा ध्यान देना चाहिए की कहीं आपके BFF का आचरण गलत तो नहीं। उसकी नियत में तो कोई खोट नही है, अन्यथा भविष्य में आपको वो नुकशान भी पहुँचा सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!