August 1, 2021
ATM full form in Hindi aur atm ke istemaal

ATM Full Form: एटीएम का फुल फॉर्म क्या है?

आज आपको पैसो की ज़रूरत है तो आपको बैंको की लम्बी लाइन में लगने की ज़रूरत नहीं, बस किसी ATM पर जाए और अपने bank account से पैसे निकल लाए।
ATM हमे पैसे निकलने के साथ balance check करने से लेकर पैसे भेजने तक की सेवा देता है, पर क्या आपको ATM की full form पता है?
अगर नहीं इस पोस्ट में जाने।

ATM full Form in Hindi

ATM full form in Hindi aur atm ke istemaal
ATM full form in Hindi

ATM का फुलफॉर्म है- Automated Teller Machine

ATM in Hindi – ऑटोमेटेड टेलर मशीन

A –  Automated

T – Teller

M – Machine

जैसा की हमे इसकी full form से समझ आ रहा है की ये पैसे निकालने का automatic तरीका है, जिसमे किसी cashier के होने की जरुआत नहीं। पर थोड़ा सही से जानते है की ATM क्या है?

ATM क्या है?

ATM एक मशीन है, जिस से हम बिना बैंक जाए अपने account से पैसे निकाल सकते है। जब भी भी बैंक में account बनाते है, तो बैंक हमे debit या credit card देता है, जिसकी मदद से ATM से पैसे निकलते है।
ATM अपने bank account से पैसे निकालने के सबसे तेज़ और आसान तरीको में से एक है।

ATM के फायदे

आज ATM की मदद से आप किसी भी दूसरे शहर में बिना पैसे लिए जा सकते है। आपको जब भी पैसे की ज़रूरत हो, सीधा उस शहर के किसी भी एटीएम में जाकर पैसे निकल ले।
पर:
पहले ऐसा नहीं था, पहले आपको कहि भी जाना है, तो वह आने जाने का, रहने खाने का सारा खर्चा आपको पहले से अपने पास रखकर लेजाना होता है, ऐसे में पैसे छोटी होने का दर बना रहता था। एटीएम के इस फायदे के साथ से बहुत से और फायदे भी है जैसे की :-

  • ATM 24 घंटे सुविधा देते है।
  • बैंक की लाइन में लगने का टाइम बचता है।
  • आप किसी भी शहर में किसी भी बैंक के ATM से पैसे निकाल सकते है।
  • ATM बिना किसी गड़बड़ी के पैसे withdraw करता है।
  • ATM से बैंक के कर्मचारियों का काम भी कम होता होता है।
  • ATM से नए नोट देने में आसानी होती है।
  • आप दुसरो के अकाउंट में पैसे भी atm से ट्रांसफर कर सकते है।

इंटरनेट और ATM

आपको पेट्रोल भराना हो या दवाइया खरीदनी हो, अब सब चीस की पेमेंट, ATM card से हो सकती है। E wallet जैसे की Paytm की मदद से बहुत आसानी से online और offline दोनों जगह पेमेंट कुछ ही seconds में की जा सकती है।

ATM का इस्तेमाल कैसे करे?

सब ATM machine में options एक जैसे होते है, पर उनको दिखाने का तरीका किसी किसी में अलग होता है।
कोई language सिलेक्शन का ऑप्शन पहले देता है तो कोई pin डालने का।
हम आपको या ATM से पैसे निकालने का तरीका बताते है, जो लगभग सब ATM ने होता है।

पहले card ATM machine में डाले।

आपको सबसे पहले ATM machine में card डालना है।
कुछ machine से card वापिस आ जाता है तो कुछ से transaction पूरा होने के बाद ही card वापिस आ सकता है।

Language चुने

ज़्यादातर ATM Hindi और English का option देते है, आपकी location के हिसाब से language options बदल भी सकते है।

Pin डाले

आपके atm card के sath 4 अंको का ATM pin होता है, जो आपको यह enter करना है।

Transaction type चुने

यहाँ पर आपको withdraw पर click करना है। बाकी option भी होंगे जैसे की balance inquiry, last five transection।

Account type चुने

यह पर आपको अपने अकाउंट का टाइप चुनना है, मतलव saving या current account।

पैसे लिखे।

आपको जितने भी पैसे निकालने है, उनको लिखे।

Slip लेने के option पर click करे।

आपको payment की slip लेनी है या नहीं पर click करे।

अपनी payment ले।

आपके पैसे ATM machine से बाहर आ जाएगे, उनको ले ले।

Payment की स्लिप ले।

पैसो के बाद payment slip भी ले।

ATM में क्या क्या होता है?

ATM एक computer की तरह है जो वो सब काम करता है जो की एक केशियर के काम होते है।
ATM के अंदर कुछ अलग अलग devices होती है जैसे की :-

  • Computer
  • Magnetic chip card reader
  • Keyboard
  • Display screen
  • Printer
  • पैसे रखने का Vault

Facts about एटीएम

ATM के साथ बहुत सी रोचक जानकारिया भी जुड़ी है कैसे की :-

  • लगभग सब ATM connection से Bank से जुढ़े होते है।
  • पैसे निकालने के लिए इस्तेमाल होने वाले कार्ड में Smart chip होती है, जिसमे unique number और हमारी security information होती है। जब हमारा PIN number chip में feed information से मेल खाता है तभी पैसे निकल पाते है।
  • आपका bank खुला हो या नहीं, आप ATM से बैंक के लगबग सारे काम कर सकते है।
  • दुनिया में लगभग 35 लाख ATM है।
  • ATM सबसे पहले कुछ पैसे निकालने का तरीका था, फिर phone और internet बैंकिंग आए।
  • Automated telling machine के बाद से बहुत से ऐसी machine आई जो atm की तरह काम करती है, पर आप उन से पैसे निकालने की जगह ticket book करते है या खाने के सामान automatic kharid सकते है जैसे की vending मशीन।

ATM की शुरुआत

दुनिया की सबसे पहेली automated banking machine सिर्फ check और पैसो को deposit करने का काम करती थी, जिसको america के Investor और businessman Luther Simjian ने 1960 में बनाया था।

एक Scottish inventor नेजिनका नाम John Shepherd-Barron था उन्होंने atm बनाया 1967 में, जो paper voucher जो की radioactive ink से print होते थे उनको read करता था।

Donald Wetzel से 1969 में पहला ऐसा ATM बनाया जो की plastic card को read करता था जो की हम आज तक इस्तेमाल कर रहे है।

इस पोस्ट पर हमारी राय

हम ने जाना कैसे ATM हमारी ज़िन्दगी को आसान बना रहा है।
पर :
ATM के फायदों के साथ कुछ नुक्सान भी है।
जैसे की अगर किसी को आपका ATM pin और card मिल जाए तो आपके account से पैसे निकाले जा सकते है।

तो अपने ATM के pin और card का खास धियान रखे।

पोस्ट को हम यही ख़त्म करता है। हमे comment में बताये की आपको हमारी पोस्ट ATM full form कैसी लगी।

One thought on “ATM Full Form: एटीएम का फुल फॉर्म क्या है?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!